त्रिशुंक होना

त्रिशुंक होना
त्रिशुंक होना मुहावरे का अर्थ है – बीच में रहना, न इधर का होना, न उधर का।