तत्पुरुष समास

प्रश्न – तत्पुरुष समास किसे कहते हैं ?

उत्तर – जिस समास का उत्तरपद प्रधान हो और पूर्वपद गौण हो उसे तत्पुरुष समास कहते हैं। इस समास में कारक चिह्नों का लोप हो जाता है। जैसे –

राजयोग – राजा का योग

इस समास में योग प्रधान है।

 

दीनानाथ – दीनों का नाथ

इस समास में नाथ प्रधान है।

 

गिरहकट – गिरह को काटने वाला

इस समास में कट प्रधान है।

 

मनचाहा – मन से चाहा

इस समास में चाहा प्रधान है।

 

रसोईघर – रसोई के लिए घर

इस समास में घर प्रधान है।

 

देशनिकाला – देश से निकाला

इस समास में निकाला प्रधान है।

 

गंगाजल – गंगा का जल

इस समास में जल प्रधान है।

 

नगरवास – नगर में वास

इस समास में वास प्रधान है।

 

तत्पुरुष समास के 6 भेद हैं –

कर्म तत्पुरुष समास

करण तत्पुरुष समास

संप्रदान तत्पुरुष समास

अपादान तत्पुरुष समास

संबंध तत्पुरुष समास

अधिकरण तत्पुरुष समास

 

समास Home

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *